Labour card renewal kaise karen – लेबर कार्ड रिन्यू कैसे करें

Labour card renewal kaise karen: दोस्तों, आज हम इस बारे में चर्चा करेंगे कि श्रमिक कार्ड को नवीकरण कैसे किया जाए! अगर आपके पास मजदूर कार्ड है और वह 1 साल से अधिक समय से बना हुआ है, तो आपको यह जान लेना चाहिए कि हर साल अपने श्रमिक कार्ड को नवीकरण करना अनिवार्य है!

इसके लिए, आपको उत्तर प्रदेश के श्रमिक कल्याण विभाग की वेबसाइट पर जाना होगा। वहां पर आपको अपने मजदूर कार्ड का नवीकरण फॉर्म ऑनलाइन भरना होगा! इस फॉर्म में आपको 2023 की लेबर कार्ड नवीकरण शुल्क का भुगतान करना होगा!

Labour card renewal kaise karen

UP Labour Card Renew करने के बाद आप इसकी स्थिति भी जांच सकते हैं। आज हम आपको बताएंगे कि आप यह कैसे कर सकते हैं, यदि आप ऑनलाइन काम करने की प्रक्रिया नहीं जानते हैं, तो आप श्रमिक कार्ड की नवीनीकरण को भी सीएससी के माध्यम से कर सकते हैं।

UP Labour Card Renewal Process 

  • पहले उपयुक्त कार्रवाई करने के लिए आपको यूपी श्रमिक विभाग की आधिकारिक वेबसाइट (https://upbocw.in/) पर जाना होगा।
  • वहां पहुंचने के बाद, आपको “अंडर श्रमिक ‘लेबर'” खंड पर क्लिक करना होगा।
  • फिर, “रिन्यूअल और स्थिति” पर क्लिक करें।
  • इसके बाद, आपको अपना लेबर श्रमिक पंजीकरण नंबर दर्ज करना होगा। “खोज” पर क्लिक करें।
  • डिटेल्स खोजने के बाद, “रिन्यूअल” पर क्लिक करें। यदि आपका बैंक खाता सही है, तो आपको आगे बढ़ना होगा।
  • अब, आपको लेबर कार्ड का अंशदान जमा करना होगा।
  • इस प्रक्रिया के बाद, आपका यूपी लेबर कार्ड सफलतापूर्वक रिन्यू किया जाता है!

लेबर /  मजदूर / श्रम कार्ड क्या है?

लेबर / मजदूर / श्रम कार्ड नागरिकों के काम को पहचानने का एक वैध दस्तावेज है, जिसके द्वारा श्रमिक सरकार के द्वारा दी जाने वाली सभी सरकारी योजनाओं का लाभ ले सकता है। मजदूर कार्ड यह प्रमाणित करता है कि वह श्रमिक किस कार्य क्षेत्र में कुशल है। मजदूर कार्ड श्रमिक की कार्यकुशलता का एक प्रमाण है। इस कार्ड से यह साबित होता है कि वह मजदूर किस क्षेत्र में कुशल कारीगर है। लेबर कार्ड बनवाने के उपरांत, प्रत्येक साल Labour Card Renewal करना पड़ता है।

Labour Card Renewal CSC से कैसे करें?

लेबर कार्ड को नवीनीकृत करने के बाद, उसकी पुनर्नवीकरण प्रक्रिया कैसे की जाती है, यह विचार श्रमिकों के मन में आता है। हम आपको आज इस प्रक्रिया का पूरा विवरण देंगे:

  1. उत्तर प्रदेश श्रमिक वेबसाइट पर जाएं: सबसे पहले, आपको उत्तर प्रदेश श्रमिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  2. CSC लॉगिन: वेबसाइट पर पहुँचने के बाद, “CSC Login” पर क्लिक करें।
  3. श्रमिक नवीनीकरण: लॉगिन करने के बाद, “श्रमिक नवीनीकरण” पर क्लिक करें।
  4. मजदूर का श्रमिक रजिस्ट्रेशन नंबर: अब, आपको अपने मजदूर के श्रमिक रजिस्ट्रेशन नंबर को ढंग से डांगर के सर्च बटन पर क्लिक करना होगा।
  5. आवश्यक जानकारी की जांच: आपके लेबर कार्ड की सभी आवश्यक जानकारी आपके सामने आएगी, जिसे आपको सफलतापूर्वक जांच लेनी होगी।
  6. अंशदान जमा करें: आप अब अपने श्रमिक कार्ड के पुनर्नवीकरण के लिए 2 या 3 साल के लिए अंशदान जमा कर सकते हैं।
  7. स्वप्रमाणित घोषणा पत्र अपलोड करें: अब, आपको अपना स्वप्रमाणित घोषणा पत्र अपलोड करना होगा।
  8. अंशदान भुगतान: आपके द्वारा किए गए समय के आधार पर अंशदान भुगतान करना होगा।
  9. सफलतापूर्वक पुनर्नवीकरण: आपका मजदूर कार्ड पुनर्नवीकरण सफलतापूर्वक पूरा हो चुका होगा।

Labour card renewal up Benefits – श्रमिक कार्ड के फायदे

यदि आपने उत्तर प्रदेश सरकार के द्वारा बनाए जा रहे श्रमिक कार्ड के लिए आवेदन किया है, तो यूपी सरकार आपको और आपके परिवार को विभिन्न प्रकार की कई सरकारी योजनाओं का लाभ देती है। लेबर कार्ड के फायदे क्या हैं, इसके बारे में मैं नीचे विस्तार से बता रहा हूं:

  1. कन्या विवाह अनुदान योजना: इस योजना के अंतर्गत, लेबर कार्ड धारकों की कन्याओं के विवाह पर वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है, जिससे उनकी आर्थिक स्थिति में सुधार होता है।
  2. मेधावी छात्रा पुरस्कार योजना: इस योजना के तहत, लेबर कार्ड धारकों के छात्राओं को उनकी शैक्षिक मेधा के आधार पर पुरस्कृत किया जाता है, जिससे उनके शिक्षा के लिए वित्तीय सहायता प्राप्त होती है।
  3. चिकित्सा सुविधा योजना: इस योजना के अंतर्गत, लेबर कार्ड धारकों को चिकित्सा सेवाओं का लाभ प्राप्त करने का मौका मिलता है, जिससे उनके स्वास्थ्य का समर्थन किया जा सकता है।
  4. शौचालय सहायता योजना: इस योजना के अंतर्गत, लेबर कार्ड धारकों को गरीबी रेखा के नीचे रहने वाले घरों में शौचालय निर्माण करने के लिए वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है, जिससे स्वच्छता और हाइजीन बनाए जाने में मदद मिलती है।
  5. सौर ऊर्जा सहायता योजना: इस योजना के अंतर्गत, लेबर कार्ड धारकों को सौर ऊर्जा प्रणालियों की स्थापना करने के लिए वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है, जिससे ऊर्जा की जरूरतों को पूरा करने में मदद मिलती है।
  6. महात्मा गाँधी सहायता योजना: इस योजना के तहत, लेबर कार्ड धारकों को वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है, जो उनकी आर्थिक स्थिति में सुधार करने में मदद करती है।
  7. आवासीय विद्यालय योजना: इस योजना के तहत, लेबर कार्ड धारकों के बच्चों को आवासीय विद्यालयों में शिक्षा प्राप्त करने के लिए वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है, जिससे उनके शिक्षा के लिए समर्थन मिलता है।

इन सरकारी योजनाओं के माध्यम से, लेबर कार

्ड धारक और उनके परिवारों को आर्थिक सहायता और सामाजिक सुरक्षा की दिशा में मदद प्रदान की जाती है, जो उनके जीवन को बेहतर बनाने में मदद करती हैं।

Free Labour / Shramik / Mazdoor Card Documents – श्रमिक कार्ड अंशदान दस्तावेज

“Free Labour / Shramik / Mazdoor Card” के लिए आवेदन करने के लिए निम्नलिखित दस्तावेज़ आवश्यक होते हैं:

  1. श्रमिक का आधार कार्ड
  2. श्रमिक का पैन कार्ड
  3. बैंक खाता पासबुक
  4. राज्य का मूल निवास प्रमाण पत्र
  5. श्रमिक का आय प्रमाण पत्र
  6. जाति प्रमाण पत्र
  7. पासपोर्ट साइज फोटो
  8. श्रमिक का राशन कार्ड”

Labour Card Renewal Time – लेबर कार्ड रिन्यू करने की समय सीमा

मैंने अपने उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा चलाए जा रहे “श्रमिक कार्ड ऑनलाइन पंजीकरण” का अध्ययन किया है। इसके साथ ही, मुझे जानकारी है कि लेबर कार्ड की रिन्यूअल कब की जाती है। सरकार द्वारा निर्धारित किया गया है कि लेबर कार्ड केवल 1 साल के लिए जारी किया जाता है। आपको इसे अंशदान करने की अनिवार्यता होती है, अगर आप इसे नवीकरण नहीं करते हैं, तो आपका लेबर श्रमिक कार्ड अमान्य हो सकता है।

लेबर कार्ड की रिन्यूअल करने का समय सीमा सरकार द्वारा 1 साल के रूप में निर्धारित किया गया है। मजदूर कार्ड को 1 साल के अंदर आप अपनी सुविधा के अनुसार समय सीमा के भीतर रिन्यू कर सकते हैं। आपको अधिकतम 3 साल के लिए लेबर कार्ड की रिन्यूअल करने की अनुमति होती है।

Conclusion

Labour card renewal kaise karen इस आर्टिकल में आपने जाना, उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा अपने नागरिकों के लिए एक बेहतरीन योजना चलाई जाती है! इस योजना के अंतर्गत प्रत्येक उत्तर प्रदेश श्रमिक अपना एक कार्ड बनवा सकता है, जिसे यूपी सरकार ने “लेबर कार्ड” कहा है। इस कार्ड के माध्यम से विभिन्न प्रकार के लाभ भी सरकार द्वारा प्रदान किए जाते हैं, जैसे कि कोविड काल में श्रमिकों के खाते में ₹1000 की मासिक किस्त।

यूपी लेबर कार्ड अंशदान को हर साल ₹20 के हिसाब से जमा किया जाता है। अगर आप 1 साल के अंतर्गत इसे जमा नहीं कर पाते, तो आपको लेट फीस देनी पड़ती है, इसलिए आपको समय से अपने यूपी लेबर कार्ड अंशदान को जमा करते रहना चाहिए।

Labour card renewal kaise karen की तरह अन्य Important Link :-

click-here

Join TelegramJoin Now
Back CategoryCSC डिजिटल सेवा
Join On QouraJoin Now
Back To HomeClick Here

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top