अज़रबैजान धर्म का इतिहास Best History of Azerbaijan Religion { 2022 }

Join Our Telegram... Members
Spread the love

5/5 - (2 votes)

History of Azerbaijan Religion |अज़रबैजान धर्म का इतिहास | अज़रबैजान धर्म | अज़रबैजान धर्म जनसंख्या |अज़रबैजान जनसंख्या | अज़रबैजान नक्शा | अजरबैजान in Hindi | अज़रबैजान का इतिहास | अज़रबैजान धर्म क्या है?

अज़रबैजान का इतिहास in Hindi

History of Azerbaijan Religion: अज़रबैजान या अजरबाइजान का इतिहास सातवीं सदी से भी पूर्व का है, जब इस क्षेत्र के लोगों का स्थानीय अरब राष्ट्रों ने इस्लाम धर्म में परिवर्तन किया। 16वीं और 17वीं शताब्दियों में, यह क्षेत्र हख़ामनी साम्राज्य और उस्मानी साम्राज्य के बीच विवाद का कारण था।

अजरबैजान या अज़रबायजान प्रांत पूर्वी यूरोप और पश्चिमी एशिया की सीमा पर एक ऐतिहासिक और भौगोलिक क्षेत्र (Area) है। यह कैस्पियन सागर द्वारा पूर्व में घिरा है, रूस के उत्तर पश्चिमोत्तर, तुर्की और आर्मेनिया के लिए दक्षिण पश्चिम करने के लिए जॉर्जिया को दागेस्तान क्षेत्र और ईरान के दक्षिण में स्थित है।

अज़रबैजान की राजधानीबाकू
अज़रबैजान के राष्ट्रपति इलहाम अलियेव
पंतप्रधानमेहरवान अलियेवा
अज़रबैजान क्षेत्रफल86600 वर्ग किलोमीटर
अज़रबैजान की जनसंख्या10,100,000 ( 2020 तक )
अज़रबैजान का सबसे बड़ा शहरबाकू
अज़रबैजान का प्रमुख धर्मइस्लाम
अज़रबैजान की मुद्रामनत (AZN)
अज़रबैजान धर्म का इतिहास

अज़रबैजान देश का इतिहास एवं पुरातनता

History of Azerbaijan Religion

अज़रबैजान में मानव निवतान का समय पुरा पाषाण काल के समय से माना जाता है। अज़रबैजान अजोख की गुफा गुरुचाय संस्कृति से बंधा हुआ प्रतीत होता है। प्रारंभिक बस्तियों में 9वीं शताव्दी ईसा पूर्व में सीथियन शामिल थे।

पूर्वोत्तर अज़रबैजान के मूल निवासियों कॉकेशियन, अल्बानियाई ने 4 वीं शताब्दी में उस क्षेत्र पर शाशन किया और पूर्ण स्वत्रन्त्र साम्राज्य स्थापित किया। शिरावंश के स्थानीय राजवंश तैमूर के साम्राज्य का जमीरदार राज्य बन गया। तैमूर की मृत्यु के बाद दो प्रतिद्वंद्वी राज्य उभरकर सामने आए , कारा कोयउलू और एक कुयुनालू ।

See also  Ankita Bhandari Murder Case 2022

1501 ईसा पूर्व में, ईरान के सफाविद वंश ने शिरवंश के राज्य को अपने अधीन कर लिया। और उसकी सारी संपत्ति प्राप्त कर ली। अगलिंसडी के दौरान, सफवेदो वंश ने पूर्व के सुन्नी मुसलमानों को शिया मुसलमानों में बदल दिया। जैसा कि उन्होंने आधुनिक ईरान में वहाँ की जनसंख्या ( आवादी ) के साथ किया था।

History of Azerbaijan Religion Fighting

सुन्नी ऑटोमांस के ऑटोमन-सफविद युद्ध के फलस्वरूप प्रेजेंट टाइम में अजरबैजन के कुछ एक हिस्सों पर कब्ज़ा करने में कामयाब रहे, 17वीं शताब्दी की शुरुआत में, उन्हें सफाविद ईरानी शाषक अब्बास ने बाहर कर दिया था। सफविद साम्राज्य की मृत्यु के पश्चात्, वर्ष 1722 से 1723 के रूसो-फारसी युद्ध के फलस्वरूप, रूसियो द्वारा बाकू और उसके दूतो पर पूरी तरह से कब्ज़ा कर लिया गया था।

सफविद इरान के पडोसी दुश्मनों द्वारा इन जैसे पूरे अन्तराल के बाबजूद, आज जो भी अज़रबैजन है, वह 19वीं शताब्दी तक सफीदों के शुरूआती आगमन से ईरानी शासन के अधीन रहा था।

अजरबैजान जनसंख्या या अजरबैजान की आबादी

History of Azerbaijan Religion: अज़रबैजान में इस्लाम धर्म अज़रबाइजान की 96.9% से अधिक आबादी में फैला है। (एक अनुमान के अनुसार 96.9% मुस्लिम शामिल हैं) यह आकलन कुछ सर्वे के अनुसार किया है। जिनको हम निम्न में प्रदर्शित कर रहे है।

(बर्कले सेंटर, 93.4% 2012) (प्यू रिसर्च सेंटर, 2009 99.2%)। मुस्लिम बहुसंख्यकों में, धार्मिक पालन अलग-अलग होता है और मुस्लिम लोगो की पहचान धर्म के बजाय संस्कृति और जातीयता पर अधिक आधारित होती है।

अज़रबैजान धर्म क्या है? History of Azerbaijan Religion

मुस्लिम आबादी लगभग 85% शिया, और 15% सुन्नी है। परंपरागत रूप से मतभेदों को स्पष्ट रूप से परिभाषित नहीं किया गया है। अज़रबैजान गणराज्य में ईरान के बाद दुनिया में शिया आबादी का दूसरा सबसे बड़ा प्रतिशत शामिल है।

अधिकांश शिया इस्लाम के रूढ़िवादी इत्ना आशरी स्कूल के अनुयायी हैं। देश में कई लोगों द्वारा पालन किए जाने वाले अन्य पारंपरिक धर्म या मान्यताएं सुन्नी इस्लाम के रूढ़िवादी हनफ़ी स्कूल हैं। बाकू और लेनकोरन क्षेत्र के आसपास के गांवों को पारंपरिक रूप से शिया धर्म का गढ़ माना जाता है।

See also  Swami Vivekananda Biography Hindi 2023- Best Story

कुछ उत्तरी क्षेत्रों में, सुन्नी दागेस्तानी (लेज़्घियन) लोगों द्वारा आबादी वाले, सलाफ़ी आंदोलन ने कुछ निम्नलिखित प्राप्त किए। लोक इस्लाम व्यापक रूप से प्रचलित है।

अज़रबैजान जनसंख्या कितनी है?

अज़रबैजान की जनसंख्या 2020 की जनगणना या सर्वे के अनुसार लगभग 10,100,000 है। आबादी के अनुसार दुनिया में इसका 91वां स्थान है और इसकी करीव 54%आवादी शहरी क्षेत्र में रहती है।

Conclusion Of History of Azerbaijan Religion

उम्मीद है इस आर्टिकल से आपको अज़रबैजान के बारे में ढेर सारी जानकारी प्राप्त हुई होगी। अगर आर्टिकल अच्छा लगा हो तो इसको ज्यादा से ज्यादा शेयर करें और कोई कमी रह गयी हो तो कमेंट सेक्शन में हमें जरुर बताएं।

Rds Kendra वेबसाइट की कोशिस है कि आपको बेहतर एवं सटीक जानकारी आप तक पहुंचे, हम पूरी कोशिश एवं मेहनत करते है फिर भी कोई गलती हो जाती है तो हमें अवगत जरुर कराएँ।

History of Azerbaijan Religion FAQs

Q: अज़रबैजान में कौन से धर्म के लोग रहते हैं?

Ans: अज़रबैजान में ज्यादातर इस्लाम धर्म के मानने वाले लोग रहते हैं।

Q: अजहर बेजान की राजधानी क्या है?

Ans: अजहर बेजान की राजधानी बाकू है।

Q: बाकू का मुद्रा क्या है?

Ans : बाकू का मुद्रा “मनत ( AZN )” है।

Q: मैं अज़रबैजान manat . कहां से खरीद सकता हूं?

Ans: आप मनत को तुर्की की मुद्रा लीरा से और अमरीका की मुद्रा डॉलर से राजधानी बाकू में विनिमय कार्यालय या बैंक के माध्यम खरीद या बदल सकते है।

यह भी पढ़े:


Spread the love

Leave a Comment